adsense

May 27, 2007

बीएसई सेंसेक्‍स को 14725 को पार करना होगा


वाह! मनी ब्‍लॉग के पाठकों के लिए यह खुशी की बात है कि आप विख्‍यात शेयर तकनीकी विश्‍लेषक श्री हितेंद्र वासुदेव के नजरिए को अब हिंदी में भी जान सकेंगे कि अगले सप्‍ताह शेयर बाजार की चाल कैसी रहेगी। यह पहला मौका और पहला मंच हैं जहां आप श्री हितेंद्र वासुदेव के कॉलम को हिंदी में पढ़ सकेंगे। श्री हितेंद्र वासुदेव का कहना है कि शेयर बाजार में बेहतर चमक के लिए बॉम्‍बे स्‍टॉक एक्‍सचेंज के 30 शेयर आधारित सेंसेक्‍स को 14725 के अंक को पार करना होगा या इसे 13500 के ऊपर कंसोलिडेटेड होना जरुरी है। पिछले सप्‍ताह की समीक्षा करें तो सवाल यह उठता है कि सेंसेक्‍स कब ब्रेकआउट करेगा। हमने ब्रेकआउट नहीं देखा है लेकिन साप्‍ताहिक हलचल दायरेबंद देखने को मिली। जो लांग लेज्‍ड डोजी केंडलस्टिक की रचना कर रही है। तेजडि़यों और मंदडियों के बीच खींचतान के युद्ध में लांग लेज्‍ड डोजी यह संकेत देता है कि बाजार डांवाडोल घूम रहा है। पिछले सप्‍ताह सेंसेक्‍स 14362.63 अंक पर खुला और यह ऊपर में 14500.64 तक गया और गिरकर 14046.06 अंक आया एवं अंत में 14338.45 अंक पर बंद हुआ, जो यह बताता है कि यह सप्‍ताह दर सप्‍ताह आधार पर केवल 35 अंक बढ़ा। सेंसेक्‍स का ऊपरी स्‍तर पर 14500 और 14725 अंक पर रेसीसटेंस बना रहेगा। यह इस स्‍तर से आगे बढ़ सकता है लेकिन इसके कायम रहने के लिए यह जरुरी है कि मुनाफा वसूली या बिक्री दबाव न देखने को मिलें। इसी तरह निचले स्‍तर पर स्‍पोर्ट भी जरुरी है जो बाजार में दिखने वाली चंचलता को रोकता है। शेयर बाजार के साप्‍ताहिक रुझान को देखें तो 18 मई 2007 को यह 14303 पर बंद होने पर देखने को मिला। यह रुझान गिरकर नीचे में 13885 अंक तक देखने को मिल सकता है अथवा शुक्रवार के बंद 14093 अंक से नीचे। लेकिन यदि सेंसेक्‍स ब्रेकआउट करता है और यह 14500 अंक के ऊपर साप्‍ताहिक आधार पर बंद होता है तो इसके न केवल जोरदार ढंग से बढ़ने की उम्‍मीद है बल्कि यह नई ऊंचाई पर पहुंच सकता है। संयोग से सेंसेक्‍स अपने सभी रेसीसटेंस को पार कर जाता है और यह 14724 के स्‍तर पर बंद होता है तो तेजी का दौर जारी रहेगा और कम से कम यह 16 हजार अंक तक चला जाएगा। बाजार का महत्‍वपूर्ण उच्‍च बॉटम 13500 अंक है। जब तक सेंसेक्‍स 13500 से ऊपर रहता है तब तक हम सेंसेक्‍स के 14724 के ऊपर जाने की उम्‍मीद बनाए रख सकते हैं। ऊपरी स्‍तर को पार करने से पहले हम कंसोलिडेशन देखेंगे। बीएसई ऑयल एंड गैस, बीएसई कैप गुड्स, निफ्टी जूनियर, बीएसई मेटल्‍स, सीएनएक्‍स मिड कैप, बीएसई पीएसयू पिछले 13 सप्‍ताहों से मजबूती का संकेत दे रहे हैं, जबकि गत 13 सप्‍ताह से बीएसई ऑटो और बीएसई आईटी सुस्‍ती के। चुनिंदा मिड कैप बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं लेकिन स्‍मॉल कैप को अभी आगे बढ़ाना बाकी है। बीएसई स्‍मॉल कैप इंडेक्‍स कमजोर है और इसने वर्ष 2007 में वर्ष 2006 की ऊंचाई को पार नहीं किया है। बीएसई स्‍मॉल कैप इंडेक्‍स की ऊंचाई 7872 रही है। प्रमुख इंडेक्‍स की बात करें तो निफ्टी सेंसेक्‍स की तुलना में कुछ समय ऊपर रहा है। आईटी इंडेक्‍स और ऑटो इंडेक्‍स ने बाजार को कमजोर रखने में भूमिका निभाई है और इसमें सीमेंट क्षेत्र का भी योगदान है। पिछले कुछ सप्‍ताहों में रुपए के मजबूत होने से बीएसई डोलेक्‍स ने नई ऊंचाई को छूआ। सीएनएक्‍स मिड कैप और निफ्टी जूनियर में ब्रेकआउट देखने को मिला। इन दोनों सूचकांकों के शेयरों में खरीददार दिखे। सम्‍पूर्ण परिदृश्‍य में देखें तो बाजार की नब्‍ज कुछ चुनिंदा फ्रंटलाइनर शेयरों के प्रदर्शन पर टिकी हैं, जो कि काफी ढीले चल रहे हैं जिससे सेंसेक्‍स उड़ान नहीं भर पा रहा है।

ईलियट वेव काउंट की यहां समीक्षा की जा रही है जो बाजार की एक व्‍यापक तस्‍वीर पेश करते हैं :
फर्स्‍ट काउंट :
वेव 1- 2594 से 3758
वेव 2- 3758 से 2828
वेव 3- 2828 से 12671 ;
वेव 3-2828 to 12671;
इंटरनल्‍स ऑफ वेव 3
वेव i- 2904 to 3416
वेव ii- 3416 to 2904
वेव iii- 2904 to 6249
वेव iv- 6249 to 4227
वेव v- 4227 to 12671
वेव 4
वेव a -12671 to 8799
वेव b-8799 to 14723
वेव c-14723 to 12316
वेव 5- 12316 to 14500 (मौजूदा चाल प्रगति में)
इंटरनल्‍स ऑफ वेव 5
वेव 1- 12316 to 13386
वेव 2- 13386 to 12425
वेव 3- 12425 to 14384
वेव 4- 14384 to 13554
वेव 5- 13554 to 14500 (मौजूदा चाल प्रगति पर)

दूसरी ओर, वेव 4 अभी प्रगति पर है और यह एक विस्‍तारित ट्रायंगल की रचना कर रही है। यहद हम विस्‍तारित ट्रायंगल देखते हैं तब यह होगा इंटरनल्‍स ऑफ वेव 4 :
वेव a -12671 to 8799
वेव b-8799 to 14723
वेव c-14723 to 12316
वेव d- 12316 to 14500 (अभी पूरी नहीं, मौजूदा चाल प्रगति पर)

विस्‍तारित ट्रायंगल में हरेक वेव अपनी पूर्व चाल से अधिक रहेगी और सम्‍पूर्ण बढ़ोतरी से पीछे लौटेगी। यदि वेव डी की चाल शुरू होती है तो यह 14724 के टॉप को पार कर सकेगी और इसकी सम्‍पूर्ण रिस्‍क वापसी 12300 तक होगी। यदि वेव डी 14724 को पार कर जाती है और ई वेब पूर्ण होनके बाद वेब डी नीचे की ओर 12300 तक आ सकती है। एक बार ए, बी, सी, डी, ई की रचना पूरी होन पर वेव पांच के लिए नई ऊंचाई देखने को मिलने की आस है। लेकिन पांचवीं वेव विफल भी हो सकती है। वेव काउंट की पुनर्समीक्षा करने के बाद उच्‍च स्‍तर पर हुई महत्‍वपूर्ण बढ़ोतरी पर रेजीसटेंस का बने रहना चुनौती पूर्ण है। यदि तेजी 14724 पर कायम रहती है तो यह अपने पहले की तेजी को तोड़ देगी। कुल मिलाकर निवेशकों और कारोबारियों को मुनाफा वसूली के साथ नई ऊंचाई पर जाने वाले शेयरों की तलाश करते रहना चाहिए।

सप्‍ताह की रणनीति
सही निवेशक की रणनीति यही होनी चाहिए कि वह उच्‍च स्‍तर पर लगातार मुनाफा वसूली करते रहे और स्‍टॉप लॉस के साथ उन स्‍टॉक्‍स में कारोबार करें जहां बढ़त देखने को मिल रही हो। हमेशा ध्‍यान इस पर रहना चाहिए कि क्‍या घट रहा है। कमजोर शेयरों के दिन भी लौटते हैं और वे अच्‍छे रिटर्न देते हैं लेकिन उनके कार्य प्रदर्शन तक का इंतजार नहीं किया जा सकता। सवाल यह है कि क्‍या कमजोर स्‍टॉक्‍स लेने चाहिए। लेकिन सही सलाह यह है कि कमजोर स्‍टॉक्‍स को नजरअंदाज करें और हरेक तेजी पर इनमें से निकल जाएं। मजबूत स्‍टॉक्‍स में बने रहें या उनमें आशिंक मुनाफा वसूली करे ताकि आपकी लागत कम हो सके और संभावना वाले अगले स्‍टॉक्‍स की तलाश करें। निवेशक अपनी लांग पोजीशन बनाए रख सकते हैं जब तक कि सेंसेक्‍स 13500 से नीचे नहीं जाता। कठिन समय का एक ही नियम है कि मौजूदा तेजी के दौर में लंबी पोजीशन के लिए दो सप्‍ताह के निचले स्‍तर को स्टॉप लॉस के रुप में रखें। दो सप्‍ताह के निचले स्‍तर से नीचे जाने का मतलब है कि अब तेजी की उम्‍मीद नहीं। दो सप्‍ताह का निचला स्‍तर 13885 है। श्री हितेंद्र वासुदेव के पहली बार हिंदी में आए इस कॉलम पर अपनी टिप्‍पणी भेजना न भूलें।

1 comment:

मैथिली said...

धन्यवाद कमल जी और हितेन्द्र वासुदेव जी के लिये सुस्वागतम