adsense

December 12, 2016

शेयर बाजार में लौटी खरीददारी

भारतीय शेयर बाजारो के लिए पिछले कई दिनों की अनिश्श्चितता के बाद गत सप्ताह उत्साहजनक रहा। अच्छी बात यह रही कि आरबीआई द्वारा ब्याज दरों में कटौती नहीं करने के बावजूद बाजार में जोरदार तेजी देखी गई और इसका श्रेय अच्छे ग्लोबल संकेत और विदेशी निवेशकों द्वारा बाजार में खरीदारी लौटने को दिया जाता है।

पिछले सप्ताह की तेजी से निवेशक खुश है क्योंकि बाजार में चौतरफा तेजी देखी गई। मजबूत विदेशी संकेतों की वजह से मेटल सैक्‍टर सबसे आगे रहा। इसके अलावा ऑटो, एनर्जी, आईटी एवं बैंकिंग सैक्‍टरों ने भी बाजार की तेजी में साथ निभाया। सप्ताह के अंत में निफ्टी एवं सेंसेक्स क्रमश: 8261/26747 के स्तर पर लगभग दो फीसदी की साप्ताहिक तेजी के साथ बंद हुए।

इस सप्ताह के प्रमुख घटक: मंगलवार को खुदरा और बुधवार को थोक महंगाई दर के आंकड़े जारी किए जाएंगे। बुधवार को  अमरीकी फ़ेडरल रिज़र्व बैंक अपनी मौद्रिक नीति जारी करेगी जो इस सप्ताह का सबसे प्रमुख घटक है।  बाजार इस बार ब्याज दरों में बढ़ोतरी की अपेक्षा कर रहा है, लेकिन फ़ेडरल बैंक की आगे की नीति का रुख महत्वपूर्ण रहेगा। विदेशी निवेशकों का रुख बाजार की दिशा के लिए बहुत महत्वपूर्ण घटक रहेगा, लंबे समय के बाद, गत सप्ताह उनके द्वारा खरीदारी देखी गई है। गत सप्ताह उन्होंने लगभग 1000 करोड़ की खरीदारी की।  इसके अलावा रुपए और कच्चे तेल की चाल अन्य प्रमुख घटक रहेंगे।

टेक्निकल आउटलुक :  स्‍वस्तिक इनवेस्‍टमार्ट, इंदौर के वरिष्‍ठ इक्विटी विश्‍लेषक संतोष मीणा का कहना है कि टेक्निकल चार्ट पर बाजार में एक बॉटम बनता नजर आ रहा है। जहां 8180 का स्तर निफ्टी के लिए मजबूत और निकटतम सपोर्ट का काम करेगा। ऊपर की ओर 8330-8350 एक निकटतम और महत्वपूर्ण रेजिस्टेंस क्षेत्र है, इसके ऊपर निकलने पर बाजार की तेजी को मोमेंटम मिलेगा, जहां 8425/8500 अगले रेजिस्टेंस स्तर रहेंगे।  

No comments: