adsense

March 14, 2007

एक अंधेरा....लाख सितारे...


काली छाया, उजली आस.....कल ही लिखा था इस ब्‍लॉग में और आज वही हुआ.....शेयर बाजार ढेर। लेकिन डरे नहीं और बेहतर कंपनियों के अपने पास रखे स्‍टॉक नहीं बेचें। जैसा कि कल ही लिखा था कि मार्च में कभी भी पांच सौ से सात सौ अंकों की गिरावट देखने को मिलेगी और इस समय बीएसई सेंसेक्‍स 400 अंक नरम चल रहा है। लेकिन याद रखें अप्रैल से शेयरों में तेजी की नई चाल शुरू होगी और विनर वही होंगे जिनके पास होंगे बेहतर कंपनियों के स्‍टॉक। याद रखें एक अंधेरा....लाख सितारे...

1 comment:

ज्ञानदत्त पाण्डेय said...

कमल जी कल निरमा आधे पर था. एक साहब ने सोचा कि इतना लुढक गया. दन्न से खरीद लिया. बाद में पता चला कि ये तो स्टाक स्प्लिट था. स्टाक स्प्लिट तो २२ को होना है. यह कैसे हो जाता है कि हफ्ता भर पहले सौदे होने लगें? नेट पर कहां आता है कि आज का भाव स्प्लिट के बाद का है?