adsense

March 23, 2007

गुगल अब साइकिल पर.......

दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजिन गुगल ने अपने कर्मचारियों को काम पर आने के लिए मुफ्त में बाइक ठहरिए...साइकिल...देने का फैसला किया है। बाइक निर्माता कंपनी रैलेग यूरोप गुगल के तकरीबन दो हजार स्‍थाई कर्मचारियों को जो कि यूरोप, मध्‍य पूर्व और अफ्रीका में काम कर रहे हैं को यह साइकिल देगी। इस पावर पैडल साइकिल के साथ मिलेंगे फ्री में गुगल लिखे हैलमेट। यह आइडिया भी गुगल के एक कर्मचारी हॉलजर मेयेर ने दिया और इसे सभी ने पसंद किया। लेकिन ऐसा नहीं है कि सारी साइकिलें एक ही तरह की दी जाएगी, इसमें कूल क्रूजर मॉडल तक को चुना जा सकता है, जो कि फोल्डिंग साइकिल है। गुगल के एचआर विभाग के निदेशक लिआन होर्नसे का कहना है कि हम केवल टेक्‍नालॉजी में ही कुछ अदभुत नहीं करना चाहते बल्कि
अपने कर्मचारियों के लिए भी करना चाहते। वे कहते हैं कि साइकिल से जहां कर्मचारी अपने को चुस्‍त दुरुस्‍त रख सकेंगे वहीं वे इससे उनके शहरों को बेहतर ढंग से जानने के अलावा पर्यावरण को मस्‍त रखने में योगदान करेंगे। यहां मेरी एक टिप्‍पणी.. भारतीय कर्मचारियों सावधान...ट्रैफिक जाम और भीड़भाड़ की वजह से भारत में भी अब कार की जगह सभी को साइकिलें मिलने लगे। तो मेरे दोस्‍तों...आज से ही शुरू कर दो साइकिल चलाने की प्रैक्टिस।

3 comments:

Anonymous said...

kya Bharat me koi eshi company hain jo apne kamchariyon ko is tarah ki suvidha deti ho..please is par bhi lekh likhein.

संजय बेंगाणी said...

गुगल की सराहना करनी चाहिए.
हमारे यहाँ बच्चे भी सायकल चलाने में अपनी तोहिन समझते है. पेट्रोल फूँक-फूँक कर पर्यावरण का सत्यानाश कर देंगे.

विकास के नए मानक बनाने होंगे. सायकल को पर्यावरण प्रेम से जोड़ना होगा.

Laxmi N. Gupta said...

अच्छी ख़बर सुनाई आपने। गूगल धन्यवाद का पात्र है।