adsense

March 23, 2007

शोर न मचाओं...आने वाली है तबाही


शेयरों में तेजी...रियॉलिटी में गर्मी...पैसा ही पैसा...लेकिन हो जाओं सावधान। तबाही आ रही है धीमी पदचाप से। यदि आप निवेश गुरु जिम रोजर्स की आर्थिक राय पर भरोसा करते हैं तो इस पर भी विश्‍वास कर लीजिए। इस निवेश गुरु ने अपना घर डेढ़ करोड़ डॉलर में बेचने का फैसला कर लिया है और बसने जा रहे हैं एशिया में। वे पक्‍के तौर पर कह रहे हैं कि जल्‍दी ही अमरीका में प्रॉपर्टी के दाम 40 से 50 फीसदी गिरेंगे और इसका असर भारत सहित दूसरे एशियाई देशों और यूरोपीय देशों पर जबरदस्‍त ढंग से देखने को मिलेगा। इसका मतलब साफ है कि यदि आप घर खरीदने का मन बना रहे हैं तो रुक जाइए। रोजर्स का कहना है कि रियॉलिटी में काफी सट्टेबाजी हो चुकी है और सारी खरीद तो सट्टात्‍मक थी। यानी सच्‍चाई से दूर। कमजोर क्रेडिट इतिहास वालों को कर्ज दिए गए हैं जिससे अब डिफाल्‍टरों की संख्‍या में तगड़ा इजाफा होगा। वे कह रहे हैं कि मैंने तो चीन को छोड़कर सभी उभरते बाजारों से अपने पैसे निकाल लिए हैं। चीन में यह गिरावट 30 से 40 फीसदी जबकि दूसरे उभरते बाजारों में 50 से 80 फीसदी गिरावट आएगी। कुछ बाजार तो पूरी तरह साफचट। जिम रोजर्स कहते हैं कि यह गिरावट केवल रियॉलिटी में ही नहीं है, बल्कि शेयर बाजारों में भी देखने को मिलेगी। वे कहते हैं कि मार्च 2000 से अक्‍टूबर 2002 के दौरान डॉट कॉम कंपनियों के साफ होने से दुनिया भर के शेयर बाजार साफ हो गए थे। जापान में ऊंची बचत दर और तगड़े विदेशी मुद्रा भंडार के बावजूद पिछली मंदी के दौर में शेयरों के दाम 85 फीसदी घटे थे। और अब इंतजार करें अगली आर्थिक मार का।

1 comment:

अनुनाद सिंह said...

यह भविष्यवाणी सच हो या ना हो, सुनकर अच्छा लगा। नहीं तो एक घर बनाने के लिये सात-आठ बार जन्म लेना पड़ेगा (सदाचार की कमाई की बात कर रहा हूँ)