adsense

July 31, 2007

लॉयड इलेक्ट्रिक पर लगाया जा सकता है दांव

लॉयड इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग कंडेंसर क्‍वॉइल में अगुआ कंपनी है जो देश में सभी प्रमुख रुम एसी निर्माताओं को इसकी आपूर्ति करती है। साथ ही यह मध्‍य पूर्व और दक्षिण पूर्वी देशों को इसका निर्यात भी करती है। कंपनी के तीन उत्‍पादक संयंत्र है जिनमें से एक राजस्‍थान के अलवर, दूसरा हिमाचल प्रदेश के काला अम्‍ब और तीसरा उत्‍तरांचल के देहरादून में है। अलवर संयंत्र में कंडेंसर और इवार्पोटोर क्‍वाइल्‍स छह उत्‍पादक लाइनों के साथ उत्‍पादन किया जाता है। काला अम्‍ब में दो उत्‍पादक लाइनों के साथ कंडेंसर क्‍वाइल्‍स का उत्‍पादन किया जाता है। कंपनी एसी ओईएम खिलाडि़यों के लिए रुम एसी का भी उत्‍पादन करती है। कंपनी का देहरादून संयंत्र शुरू होने के बाद इसके कार्य प्रदर्शन में बेहतर स्थिति देखने को मिल रही है जिसकी वजह से वर्ष 2007 में ऑपरेटिंग मार्जिन में 50 फीसदी की बढ़ोतरी हुई।

एक नजर में देखा जाए तो लॉयड इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग के शेयरों को मध्‍यम से लंबी अवधि के निवेश के लिए खरीदा जा सकता है। चालू वित्‍त वर्ष की पहली तिमाही में कंपनी की शुद्ध बिक्री 17.67 करोड़ रुपए रही, जो पिछले साल इसी अवधि में 12.45 करोड़ रुपए थी। इसी तरह शुद्ध लाभ 11.4 करोड़ रूपए की तुलना में 16.5 करोड़ रुपए पहुंच गया। वार्षिक आधार पर प्रति शेयर आय यानी ईपीएस 16.9 रुपए की तुलना में बढ़कर 21.3 रुपए पहुंच गई। हमें यकीन है कि वर्ष 2007/08 में कंपनी के कुल कारोबार में 40 फीसदी की बढ़ोतरी होगी और शुद्ध लाभ में 41 फीसदी। लॉयड इलेक्ट्रिक इंजीनियरिंग का शेयर इस समय 207 रुपए चल रहा है। इसे 180 से 200 रुपए की रेंज में दो साल के निवेश के तहत खरीदा जा सकता है। हालांकि, जो निवेशक इतनी लंबी अवधि के लिए इसमें निवेश नहीं करना चाहते वे इसमें होने वाले उतार चढ़ाव का लाभ ले सकते हैं क्‍योंकि यह ट्रेडिंग के लिए भी एक बेहतर स्‍टॉक है।

No comments: