adsense

July 18, 2007

सीमेंट के लौटे दिन

केंद्र सरकार ने वित्‍त वर्ष 2007/08 का बजट पेश करते समय जिस तरह सीमेंट उत्‍पादकों को हड़काया था, उससे हमें सीमेंट निर्माताओं के साथ सहानुभूति हो रही थी कि ये बेचारे तो मारे गए। लेकिन सरकार ने जल्‍दी ही बात पलटी और अनेक मीठी मीठी बातें कर सीमेंट उत्‍पादक कंपनियों के मूड को अच्‍छा कर दिया। इसके बाद तो सीमेंट के भावों के साथ इन कंपनियों के शेयरों के दाम भी चढ़ने लगे।

सीमेंट क्षेत्र के मुख्‍य कंपनी एसीसी अपने कार्य परिणाम 19 जुलाई को घोषित करने जा रही है और जो आरंभिक संकेत मिले हैं, उससे पता चलता है कि सभी सीमेंट कंपनियां बेहतर नतीजे देंगी। कल एसीसी के नतीजे के साथ सीमेंट कंपिनयों के भावों में चमक आने के पूरे आसार हैं। एसीसी की इस तिमाही में शुद्ध बिक्री 1462 करोड़ रूपए से 1810 करोड़ रूपए, शुद्ध लाभ 259 करोड़ रूपए से 353 करोड़ रूपए पहुंचने का अनुमान है।

सीमेंट मैन्‍युफैक्‍चरर्स एसोसिएशन का कहना है कि मई में सीमेंट की बिक्री 10.6 फीसदी बढ़कर 142.1 लाख टन पहुंच गई और इस वित्‍त वर्ष के आखिर तक सीमेंट क्षमता में 180/200 लाख टन की बढ़ोतरी होने का अनुमान है। रियल सेक्‍टर, स्‍पेशल इकॉनामिक जोन्‍स जैसे क्षेत्रों की मांग सीमेंट उद्योग के लिए फायदेमंद साबित होगी। सीमेंट में रखें नजर यहां : एसीसी, केशोराम इंडस्‍ट्रीज, श्री सीमेंट, इंडिया सीमेंट, अल्‍ट्राटेक सीमेंट, जेके लक्ष्‍मी सीमेंट, विनायक सीमेंट, आंध्र सीमेंट, मंगलम सीमेंट, प्रीज्‍म सीमेंट।

4 comments:

हरिमोहन सिंह said...

और अम्‍बुजा सीमेन्‍ट के बारे में आप क्‍या सोचते है

कमल शर्मा said...

गुजरात अंबुजा सीमेंट एक अच्‍छी कंपनी है लेकिन इसके बजाय दूसरे सीमेंट शेयरों मे इस समय तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। कंपनी कोई भी हो, सबसे पहले देखना यह है कि कितनी तेजी से हम अपने निवेश पर पैसा कमा सकते हैं। मेरा लक्ष्‍य देश में सौ लोगों को करोड़पति बनाना है और इसके लिए तेजी से बढ़ते स्‍टॉक ढूंढने पड़ते हैं।

हरिमोहन सिंह said...

धन्‍यवाद

panditji said...

आपकी जानकारी अति विशवसनीय है। वाकई मात्र आपके अनुभव के आधार पर ही कोई चले तो अच्छी खासी कमाई कर सकता है। अब सर किसी दिन किसी शेयर का टेम्परेचर अर्थात उसके बारे में ए टू जेड कैसे जाने उसके बारे में भी पृथक लेख लिखने की कृपा करेंगे। अभी वर्तमान में जानकारी www.rediffmoney or equitymaster.com से जुटा रहा हूं