adsense

January 15, 2008

स्‍टील की मजबूती है गेलेन्‍ट मेटल में

gallant गुजरात स्थित इंटीग्रेटेड स्‍टील उत्‍पादक कंपनी गेलेन्‍ट मेटल स्‍पोंज ऑयरन, एमएम बिलेट्स, रि रोल्‍ड उत्‍पादक (टीएमटी बार्स) के उत्‍पादन से जुड़ी हुई कंपनी है। कंपनी समूचे बिलेट्स का रोलिंग उत्‍पादकों के लिए खुद ही खपत करती है। कंपनी के रिरोल्‍ड उत्‍पादों को बनाने में एमएस बिलेट्स मुख्‍य कच्‍चा माल है। कंपनी के पास स्‍वयं के उपयोग के लिए बिजली संयंत्र भी है जिसमें 18 मेगावाट बिजली का उत्‍पादन किया जाता है। कंपनी ने अपनी परियोजना के दूसरे चरण के तहत मार्च 2007 में 25 मेगावाट का निजी बिजली संयंत्र स्‍थापित किया। शानदार आर्थिक विकास दर, इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर डेवलपमेंट, और ग्रामीण विकास पर ध्‍यान देने की नीति से स्‍टील उद्योग पर सकारात्‍मक असर देखने को मिलेगा। पश्चिम क्षेत्र में स्‍टील की मांग व आपूर्ति में अंतर का लाभ भी इस कंपनी को मिलेगा। साथ ही कंपनी ने गुजरात व महाराष्‍ट्र के हर बाजार में अपनी उपस्थिति बनाना शुरु कर दिया है। इस कंपनी ने अब अलॉय और स्‍पेशल स्‍टील के उत्‍पादन में उतरने का इरादा जताया है। साथ ही अपनी उत्‍पादन क्षमता में बढ़ोतरी और यूरोप व चीन के बाजार में निर्यात के माध्‍यम से यह अंतरराष्‍ट्रीय मंच पर अपना कारोबार विस्‍तार करने के मूड में है।

गेलेन्‍ट मेटल (तकनीकी विवरण के लिए यहां क्लिक करें) ने 31 दिसंबर 2007 को समाप्‍त तिमाही में 102.5 करोड़ रुपए की बिक्री पर 12.5 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया। जबकि, 30 सितंबर 2007 को समाप्‍त तिमाही में कंपनी की बिक्री 85.7 करोड़ रुपए और शुद्ध मुनाफा 5.8 करोड़ रुपए था। कंपनी का बाजार पूंजीकरण 340.78 करोड़ रुपए है। वित्‍त वर्ष 2007 में इसकी बुक वेल्‍यू 13.18 रुपए थी। कंपनी की शेयरधारिता की बात की जाए तो इसमें प्रमोटरों की हिस्‍सेदारी 59.65 फीसदी है, जबकि वित्‍त संस्‍थाओं और अन्‍य की हिस्‍सेदारी 23.58 फीसदी है। आम जनता के पास कंपनी के केवल 16.77 फीसदी शेयर हैं। इसका बीएसई कोड 532726 और एनएसई कोड GALLANT है। मौजूदा समय में 48 रुपए पर बिक रहे गेलेन्‍ट मेटल के शेयर का दाम मध्‍यम अवधि में 75 रुपए तक जाने की उम्‍मीद है।

No comments: