adsense

January 29, 2008

रुचि सोया : सॉलिड स्‍टॉक

ruchi घरेलू खाद्य तेल कंपनी के शेयरों में जब निवेश की बात आती है तो सभी निवेशकों के दिमाग में रुचि सोया का नाम सबसे पहले उभर आता है। इस कंपनी के कार्य प्रदर्शन और सही योजना ने निवेशकों को हमेशा अपनी ओर खींचा है। रुचि सोया ने हाल में अपने तिमाही नतीजे घोषित किए हैं। अक्‍टूबर से दिसंबर 2008 की तिमाही में कंपनी की शुद्ध बिक्री 3196.6 करोड़ रुपए रही जिस पर शुद्ध लाभ 59.5 करोड़ रुपए रहा। जबकि, अक्‍टूबर से दिसंबर 2007 की तिमाही में शुद्ध लाभ 37.5 करोड़ रुपए और शुद्ध बिक्री 2853.4 करोड़ रुपए थी। यानी चालू तिमाही में शुद्ध बिक्री में पिछली समान तिमाही की तुलना में 12 फीसदी और शुद्ध मुनाफे में 59 फीसदी की बढ़ोतरी। जबकि, इन नतीजों को अप्रैल से दिसंबर 2007 के नौ महीनों में संदर्भ में देखें तो शुद्ध बिक्री 7519.2 करोड़ रुपए और शुद्ध लाभ 119.7 करोड़ रुपए रहा। जबकि, पिछले साल समान अवधि में शुद्ध बिक्री 5536 करोड़ रुपए एवं शुद्ध लाभ 66.5 करोड़ रुपए था। नौ महीनों में शुद्ध बिक्री 36 फीसदी एवं शुद्ध लाभ में 80 फीसदी का इजाफा हुआ है।

  • रुचि सोया ने सरसों, बिनौला और राइस ब्रान तेलों के रिटेल बाजार में बड़े पैमाने पर उतरने की आसोया क्रामक योजना बनाई है।
  • खाद्य तेलों के खपत में हो रही बढ़ोतरी में पैकेड खाद्य तेल का बाजार 15 से 20 फीसदी की दर से बढ़ रहा है।
  • कंपनी जैट्रोफा प्‍लांटेशन और बॉयो फ्यूल में उतरने की तैयारी में है। देश में डीजल की बढ़ रही मांग से कंपनी का इस मोर्चे पर बड़ा लाभ होगा।
  • रुचि सोया ने इंडोनेशिया में पॉम तेल प्‍लांटेशन की योजना बनाई है। यह अनुबंध फॉर्मिंग पर होगी। इस सौदे के जल्‍दी पूरा होने की संभावना है। कंपनी का यह कदम उसके लिए बड़ा लाभदायी होगा और फीडस्‍टॉक प्राइस को उचित बनाए रखने में मदद मिलेगी।
  • भारत अपनी जरुरत का 40 फीसदी पॉम तेल आयात करता है। जनवरी 2007 से अब तक पॉम तेल के दाम 75 फीसदी बढ़े हैं।
  • रुचि सोया न्‍यूट्रैला ब्रांड के तहत फूड और ब्रेवरीज उत्‍पाद लांच करेगी।

रुचि सोया (तकनीकी रिपोर्ट के लिए यहां क्लिक करें) में प्रमोटरों की हिस्‍सेदारी 36.02 फीसदी, संस्‍थागत निवेशकों और म्‍युच्‍यूअल फंडों की हिस्‍सेदारी 26.51 फीसदी, विदेशी संस्‍थागत निवेशकों की 28.22 फीसदी एवं आम जनता की हिस्‍सेदारी 9.01 फीसदी है। इसका बीएसई कोड 500368 है।

रुचि सोया को चालू वित्‍त वर्ष में 10500 करोड़ रुपए की शुद्ध बिक्री पर 170.5 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ होने की उम्‍मीद है। बुक वेल्‍यू 57.4 रुपए रहने की आस है। कंपनी को वर्ष 2008-09 में 12075 करोड़ रुपए की शुद्ध बिक्री पर 227.7 करोड़ रुपए का शुद्ध मुनाफा और बुक वेल्‍यू 75.7 रुपए रहने की संभावना है। वर्ष 2009-10 में कंपनी को 13886.3 करोड़ रुपए की शुद्ध बिक्री पर 297.3 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ एवं बुक वेल्‍यू 97.4 रुपए पहुंच जाने की उम्‍मीद है।

रुचि सोया के शेयर का पिछले 52 सप्‍ताह में उच्‍च भाव 165 रुपए और नीचला भाव 61 रुपए था। इसकी इक्विंटी 36.5 करोड़ रुपए है। इसका बाजार पूंजीकरण 2156.88 करोड़ रुपए है। रुचि सोया का भाव 28 जनवरी 2008 को 118 रुपए था जिसके अगले 10 महीनों में 170 रुपए तक पहुंचने की उम्‍मीद की जा सकती है।

2 comments:

Omprakash said...

आप कविता अपने नाम से क्यों नहीं लिख्ते ?
व्यंग्य तो लिखते हैं ?

Omprakash said...

आप कविता अपने नाम से क्यों नहीं लिख्ते ?
व्यंग्य तो लिखते हैं ?