adsense

January 30, 2008

केईआई इंडस्‍ट्रीज: पैसे का केबल

kei लो टेंशन और हाई टेंशन पावर केबल्‍स के उत्‍पादन से जुड़ी देश की मुख्‍य कंपनी केईआई इंडस्‍ट्रीज देश में बिजली क्षेत्र के हो रहे विकास के साथ तेज गति से आगे बढ़ रही है। लो टेंशन केबल्‍स में इसकी 37 हजार किलोमीटर और हाई टेंशन केबल्‍स में तीन हजार किलोमीटर सालाना उत्‍पादन क्षमता है। कंपनी ने अक्‍टूबर से दिसंबर 2007 की तिमाही के घोषित नतीजों में 233.5 करोड़ रुपए की आय पर 13.5 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया है। जबकि, पिछले साल समान अवधि में इसकी आय 160.5 करोड़ रुपए और शुद्ध लाभ 11 करोड़ रुपए था। वर्ष 2006/07 में कंपनी की आय 604.3 करोड़ रुपए और शुद्ध मुनाफा 40.1 करोड़ रुपए रहा। 31 मार्च 2008 को समाप्‍त होने वाले वित्‍त वर्ष में आय बढ़कर 885.1 करोड़ रुपए और शुद्ध लाभ 58 करोड़ रुपए होने का अनुमान है।

  • केईआई इंडस्‍ट्रीज देश की दूसरी सबसे बड़ी पावर केबल उत्‍पादक कंपनी है और देश के शेयर बाजार में सूचीबद्ध सबसे बड़ी खिलाड़ी।
  • कंपनी के चौपंकी स्थित नए संयंत्र में जनवरी के पहले सप्‍ताह से आंशिक उत्‍पादन आरंभ हो गया है। हालांकि, हाई टेंशन केबल्‍स इकाई का काम अंतिम चरण में है और इसके मई महीने से शुरु होने की उम्‍मीद है। कंपनी की आय में इस संयंत्र का योगदान 350 करोड़ रुपए सालाना होने की संभावना है। इसके अलावा कंपनी के भिवाड़ी संयंत्र में चल रहे एचटी केबल अपग्रेडेशन और एलटी केबल विस्‍तार सुविधा अंतिम चरण में है। इस संयंत्र के अप्रैल 2008 तक आरंभ हो जाने की उम्‍मीद है।
  • कंपनी बिजली उत्‍पादन के लिए एक सब्‍सिडीयरी के माध्‍यम से उतरने की तैयारी कर रही है। इस संबंध में कंपनी जल्‍दी घोषणा करेगी।
  • कंपनी के ताजा नतीजों में मार्जिन पर एक दबाव दिखा जो इसके स्‍टेनलैस स्‍टील वायर सेगमेंट पर दिखा। निकिल के दामों में आए उतार चढ़ाव से कंपनी के मार्जिन पर दबाव आया।

केईआई इंडस्‍ट्रीज (तकनीकी रिपोर्ट के लिए यहां क्लिक करें)में प्रमोटरों की हिस्‍सेदारी 35.82 फीसदी है। विदेशी संस्‍थागत निवेशकों के पास 16.91 फीसदी, म्‍युच्‍यूअल फंड व संस्‍थागत निवेशकों के पास 8.59 फीसदी, नॉन प्रमोटर कार्पोरेट के पास 24.45 फीसदी शेयर हैं, जबकि आम जनता के पास केवल 14.23 फीसदी श्‍ोयरधारिता है। कंपनी को वित्‍त वर्ष 2008/09 में 1319.3 करोड़ रुपए की आय और 87 करोड़ रुपए का शुद्ध मुनाफा होने की उम्‍मीद है। जबकि, वित्‍त वर्ष 2009/10 में आय 1652.1 करोड़ रुपए और शुद्ध मुनाफा 110.8 करोड़ रुपए पहुंच जाने की आस है। इसका बाजार पूंजीकरण 523.33 करोड़ रुपए है। पिछले 52 सप्‍ताह में केईआई इंडस्‍ट्रीज का शेयर ऊपर में 169 रुपए और नीचे में 65 रुपए था। यह 29 जनवरी 2008 को 88.50 रुपए पर बंद हुआ। मध्‍यम से लंबी अवधि के निवेश के लिए यह बेहतर स्‍टॉक है क्‍योंकि कंपनी पावर केबल के बाद अब बिजली उत्‍पादन में भी उतरने जा रही है जिसका लाभ निश्चित रुप से निवेशकों को मिलेगा। केईआई इंडस्‍ट्रीज के शेयर का भाव आने वाले दिनों में 120 रुपए तक जा सकता है।

No comments: