adsense

July 20, 2014

सोयाबीन में खरीददारी की संभावना

सोयाबीन की कीमतों में लंबी गिरावट के बाद अब तेजी का रूख देखा जा सकता है।  इस वर्ष शुरुआती मानसून बड़ा ही कमजोर रहा  इसके कारण खरीफ़ फसल सोयाबीन की बुआई में देरी हो रही है और इसकी वजह से कीमतों में तेजी के आसार हैं।

भारतीय कृषि मंत्रालय के अनुसार पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष कुल बोआई क्षेत्रफल में 14.49 लाख हैक्टेयर की कमी आई है, और इस वजह से देश की प्रमुख सोयाबीन मंडियों में प्रतिदिन की आवक में कुछ कमी देखी गई है। वहीं स्टॉकिस्टों और मिलर्स की खरीदारी भी बनी हुई है, जिससे भी कीमतों में निचले स्तरों से समर्थन देख सकते हैं।

चीन में मई माह की तुलना में जून माह में कुल आयत में बढ़ोतरी हुई जिसकी वजह से कीमतों में मजबूती देखी जा रही है। अमरीकी कृषि विभाग के अनुसार क्रॉप ईयर 2014-2015 में कुल बुआई 814.9 लाख हैक्टेयर में होने का अनुमान है। ब्राज़ील में सोयाबीन की कटाई लगभग पूरी हो चुकी है, जो पिछले वर्ष की तुलना में 2.7 फीसदी कम है।

टेक्निकल ऑउटलुक: सोयाबीन इंदौर मंडी में पिछले सप्‍ताह हाजिर भाव 27 रूपए की मामूली बढ़त के साथ 4103  (0.66 फीसदी) रुपए बंद हुआ एवं कमोडिटी एक्सचेंज एनसीडीईएक्स में अक्टूबर माह वायदा भाव 12 रुपए की हल्की बढ़त के साथ 3751 (0.32 फीसदी) रुपए बंद हुआ।


स्‍वस्तिक इनवेस्‍टमार्ट, इंदौर के कमोडिटी विश्‍लेषक संयम नीमा का कहना है कि एनसीडीईएक्स एक्सचेंज पर निचले स्तरों से खरीदी करना लाभप्रद है  इसलिए इस सप्ताह निवेशक अक्टूबर माह वायदा में 3700 रुपए के लगभग खरीदी कर 3630 का स्टॉप लॉस रखें। इस सप्ताह 3880 रुपए तक का ऊपरी स्तर देख सकते हैं।

No comments: