adsense

March 30, 2015

सोना-चांदी में मुनाफावसूली की आशंका

इंदौर । सोने-चांदी की कीमतों में पिछले सप्ताह रिकवरी का दौर जारी रहा । लेकिन इस सप्ताह दोनों में मुनाफावसूली देखने को मिल सकती है । सोने-चांदी की कीमतों में पिछले सप्ताह में आई तेजी की मुख्य वजह विदेशी बाजार का सप्पोर्ट और यमन एवं सऊदी अरब के बीच तनाव की स्थिति पैदा होना है । घरेलू एवं विदेशी शेयर बाजार में पिछले सप्ताह आई लगभग 2.50 प्रतिशत की गिरावट भी सोने-चांदी की कीमतों में बढ़त का एक कारण रहा ।
मिडिल ईस्ट से अगर वापस कोई नेगेटिव खबर आती है तो सोने-चांदी में एक मामूली उछाल भी देखने को मिल सकता है । इस सप्ताह गुड फ्राइडे के अवकाश की वजह से शुक्रवार को आने वाले मंथली पैरोल के आंकड़ों का असर अगले सोमवार को ही देखने को मिलेगा । कमोडिटी एक्सचेंज एमसीएक्स में गत सप्ताह अप्रैल वायदा सोना 387 रुपए (1.48 फीसदी ) की साप्ताहिक बढ़त के साथ 26569 रुपए पर बंद हुआ । वहीं चांदी मई वायदा 606 रुपए (1.60 फीसदी ) की साप्ताहिक लेकर 38395 रुपए पर बंद हुई ।
स्थानीय हाजिर बाजार में शनिवार को 24 कैरेट सोना 26750 रुपए प्रति दसग्राम और चांदी 38050 रुपए प्रति किलोग्राम पर कारोबार कर रही थी। अंतरराष्‍ट्रीय  बाजार में सोना 16.60 एवं चांदी 0.21 डॉलर साप्ताहिक बढ़कर क्रमशः 1199/16.95 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुए।
टेक्निकल : स्‍वस्तिक इनवेस्‍टमार्ट, इंदौर के वरिष्‍ठ कमोडिटी विश्‍लेषक अमित खरे का कहना है कि सोना-चांदी की कीमतों में हल्की मुनाफावसूली नजर आ रही हैं । एमसीएक्स में जून वायदा सोने के लिए 27220 रुपए का ऊपरी स्तर महत्वपूर्ण रेजिस्टेंस का काम करेगा । वहीं नीचे की तरफ 26650/26250 रुपए के स्तर इसके लिए निकटतम सपोर्ट का काम करेंगे। इसी प्रकार मई वायदा चांदी के लिए 39200 रुपए का ऊपरी स्तर महत्वपूर्ण रेजिस्टेंस रहेगा । इसके ऊपर निकलने पर इसमें 40000/40600 रुपए के ऊपरी स्तर भी देखने को मिल सकते हैं  । दूसरी तरफ 37800/37200 रुपए के निचले स्तर चांदी के लिए अब महत्वपूर्ण सपोर्ट का काम करेंगे।
इस सप्ताह के मुख्य घटक : इस सप्ताह अमरीका के महत्वपूर्ण आर्थिक आंकड़ों पर भी निवेशकों को नजर रखनी चाहिए। जिनमें मंगलवार के कंज्यूमर कॉन्फिडेंस, बुधवार के एडीपी नॉन फॉर्म एम्प्लॉयमेंट चेंज, गुरुवार के ट्रेड बैलेंस एवं अनएम्प्लॉयमेंट क्लैम और शुक्रवार के मंथली पेरोल के आंकड़े प्रमुख हैं।

No comments: