adsense

April 02, 2017

आरबीआई की क्रेडिट पॉलिसी से मिलेगी शेयर बाजार को दिशा

भारतीय शेयर बाजार में पिछले कुछ दिनों से सीमित दायरे में कारोबार देखने को मिल रहा है, लेकिन तेजी का रुख बकरार है जहां हर गिरावट पर खरीदारी देखी जा रही है। गत सप्ताह विदेशी निवेशकों के साथ-साथ घरेलू संस्थागत निवेशको द्वारा भी अच्छी खरीदारी देखी गई। सरकारी बैंकों के एनपीए को लेकर सरकार द्वारा बड़े कदम उठाने की उम्मीद में पीएसयू बैंको के शेयरो में शानदार तेजी देखी गई।

रिलायंस जियो की प्राइम मेम्बरशिप से बड़ी मात्रा में कस्टमर जुड़ने से रिलायंस गत सप्ताह निफ्टी 50 में सबसे ज्यादा बढ़ने वाला शेयर था। सप्ताह के अंत में निफ्टी एवं सेंसेक्स क्रमशः 9173/29620 के स्तर पर लगभग 0.7 फीसदी की साप्ताहिक बढ़त के साथ बंद हुए।

इस सप्ताह प्रमुख घटक: इस सप्ताह का सबसे प्रमुख घटक 6 अप्रैल को जारी होने वाली, आरबीआई की क्रेडिट पॉलिसी रहेगी। वैसे इस बार भी बाजार को आरबीआई से ब्याज दरो में कटौती की कम ही उम्मीद है।

विदेशी बाजारो में अभी भी अनिश्चितता का माहौल बना हुआ है, अतः विदेशी संकेतों का असर बाजार पर देखने को मिलेग। ऑटो कंपनियों के बिक्री के आंकड़ों का असर भी बाजार पर देखने को मिलेगा।

अलग-अलग सैक्‍टर को लेकर सरकार लगातार एक्टिव नजर आ रही है जैसे गत सप्ताह मेगा पावर पॉलिसी एवं नई यूरिया पॉलिसी लागु करना, जिसका असर उससे जुड़े हुए शेयरो में देखने को मिल रहा है।

वित्त वर्ष 2018 की शुरुआत में विदेशी निवेशको तथा घरेलू संस्थागत निवेशको का रुख महत्वपूर्ण रहेगा गत सप्ताह उन्होंने क्रमश: लगभग 7500 तथा 4200 करोड़ की खरीदारी की थी। इसके अलावा कच्चे तेल और रुपए की चाल अन्य प्रमुख घटक रहेंगे।

टेक्निकल आउटलुक: स्‍वस्तिक इनवेस्‍टमार्ट, इंदौर के इक्विटी विश्‍लेषक संतोष मीणा का कहना है कि बाजार में तेजी का रुख बरकरार है जहां निफ्टी में 9000 के सपोर्ट से अच्छी तेजी देखी गई, आगे भी बाजार में तेजी जारी रहने की उम्मीद है। 9200 के ऊपर अगर निफ्टी टिकता है तो निफ्टी में 9400 तक के स्तर देखे जा सकते है, वही नीचे की ओर 9060 निकटतम और मजबूत सपोर्ट का काम करेगा।

No comments: